in , ,

Backlink क्या है ? What is Backlinks in Hindi

Backlink Kya Hai Or Ese Kaise Banate Hai

Backlink kya hai और Backlink kaise banaye: दोस्तों आप में से कई सारे ऐसे ब्लॉगर्स होंगे जिन्होंने हाल ही में कोई नया ब्लॉग या वेबसाइट बनायीं होगी और आपको समझने में थोड़ी दिक्कत हो रही है कि शब्द “बैकलिंक” का अर्थ क्या होता है, तो आज हम उसी के ऊपर बात करेंगे |

Bloggers अपने blog को successful बनाने के लिए हर दिन कुछ ना कुछ नया सीखने की कोशिश करते रहते हैं, जिससे की वह अपने ब्लॉग को एक नया मुकाम तक ले जा सकें और उनका भी blog औरो की तरह धीरे धीरे मसहुर हो सके और वह एक successful ब्लॉगर बन सके |

Blogging के field में जो लोग पहले से ही हैं उन्हें जरूर पता होता है की backlink होता है लेकिन जो blogging field में नए हैं और उन्होंने just ही अपना blog बनाया है या बना चुके है, उनलोगों को के लिए backlink बारे में जानना बहुत जरुरी है | इसलिए आज मै आपको इस article के माध्यम से backlink के बारे में बताने जा रहा हूँ की Backlink क्या है, कैसे बनाये और ये कितने प्रकार के होते हैं?

तो आइये इस आर्टिकल को आगे बढ़ाते है और जानते है की What is Backlink In Hindi.

Backlink क्या है – What is Backlink in SEO?

Backlink Kya Hai Or Ese Kaise Banate Hai

जब भी हम किसी webpage या website के link को किसी अन्य website से लिंक किया जाता है, तो उसे Backlink कहा जाता है, साधारण भाषा में समझने की कोशिश करें तो Backlink एक link है जिसके जरिये कोई भी visitors किसी दुसरे के website से आपके website तक आने जाने का राश्ता बनाती है |

अभी भी आपको समझ में नहीं आया होगा तो चलिए आपको डिटेल से बताते है मान लीजिये कोई एक अच्छा website हैं जहाँ पर बहुत से visitors उसके page में visit करके उस article को पढने आते हैं | अगर आपने अपने अपनी site का link उस web page में दिया गया होगा तो उस page में आने वाले जितने भी सारे visitors होंगे उनमें से कुछ आपके द्वारा दी गई आपके site के link पर click कर आपके web page में भी आ जाते हैं।

जिसके बाद होगा यह की आपके भी site में visitors प्रतिदिन आने शुरू होने लगेंगे और आपका website search engine में धीरे धीरे rank करने लगेगा, इसी चीज को हम backlink कहते हैं | यह backlink गूगल के Search Engine में किसी भी वेबसाइट को रैंक कराने के लिए बहुत ही महत्पूर्ण भूमिका निभाती है|

Backlink create करने से पहले आपको इससे जुड़े कुछ इम्पोर्टेन्ट बात यानि इसके terms को आपको अवस्य जानना चाहिए तभी आप इसके बारे में अच्छे से समझ पाएंगे और उसका इस्तेमाल अपने blog पर सही तरीके से कर पाएंगे | तो चलिए जानते हैं उन terms के बारे में-

1) Link Juice: जब भी किसी एक web page का link आपके किसी blog या website के एक article या page के link के साथ जुड़ा हुआ होता है, तो वहां से link flow पास होकर आपकी वेबसाइट पर पहुँचता है इसे Link juice कहते है | ये Link juice किसी भी आर्टिकल या वेबसाइट को रैंक rank कराने में मदद करता है साथ ही यह आपकी वेबसाइट की domain authority को भी बेहतर करता है |

2) High quality links: High quality backlinks उस तरह की बैकलिंक होती है जो किसी quality website से ली गई होती है | quality website वो होते हैं जो popular होते हैं और जिनका DA, PA अच्छा होता है और वहाँ से लिया गया लिंक High-Quality Links कहलाता है | अगर आपको इस तरह के website से backlink मिलते हैं तो search engine में आपके site या ब्लॉग को high ranking प्राप्त होने में मदद मिलेगी |

Quality backlink जब भी बनाया जाता है तो एक चीज का ध्यान जरूर रखा जाता है, जैसे की मान लीजिये अगर आपका blog health या technology के ऊपर है तो आपको health या technology से related ही किसी दुसरे blog से backlink लेना चहिए | अगर आप किसी दुसरे niche जैसे fitness related blog से link लेते है तो इससे आपको कोई भी फायेदा नहीं होगा |

3) Low quality links: Low quality links ऐसे links होते है जो किसी spam site, automated या फिर porn साइट से आपके website पर आ रही होती है | इस तरह का links आपकी वेबसाइट के लिए बहुत ही ज्यादा खतरनाक होते है | इसलिए जब भी आप backlink का इस्तेमाल अपने blog में कर रहे हो तो इस चीज का ध्यान जरुर रखें |

4) Internal links: Internal Links वो links होते है जो आपके website के एक page या article से लेकर दुसरे page या article तक जाते हैं, इसे हम internal links कहते हैं | मान लीजिये की आपके blog या website का कोई एक article google के first page पर पहले से rank कर रहा है और आप अपने दुसरे article को भी उसी की तरह से google पर rank कराना चाहते हैं तो आप इन दोनों article के link को एक दुसरे article के साथ जोड़ कर सकते हैं |

5) Anchor Text: Anchor Text वह text होता जो hyperlinks के साथ प्रयोग होता है और इसे हम Anchor Text कहते है | Anchor text में हम अपने Keyword को यूज़ करके backlinks बनाते है और इस तरह से backlink बनाना सबसे पोपुलर तरीका भी होता है और यह सबसे ज्यादा work भी करता है | आप जब भी अपने blog के लिए कही से backlink बनाये तो anchor text का प्रयोग अवस्य करे |

अभी तक हमलोगों ने जाना है की backlink kya hai? और उससे रिलेटेड कुछ rules यानि terms के बारे में भी हमलोगों ने जाना | अब हम आगे जानेगें की backlink कितने प्रकार के होते हैं |

Types of Backlink in Hindi : बैकलिंक के प्रकार

मुख्यत: Backlink दो प्रकार के होते हैं एक dofollow backlink और दूसरा nofollow backlink और इस दोनों बैकलिंक्स की अपनी-अपनी विशेषता होती है तो चलिए इसके बारे में विस्तार से जानते हैं step-by-step

1# DoFollow Backlink

हमलोग link juice के बारे में पहले ही जान लिया है, यह do-follow backlink link juice को pass करने में सहायता करता है, जो की एक website से दुसरे website में जाने का राश्ता देता है उसे हम Dofollow backlink यानि Juicy links भी कहते है | DoFollow backlink किसी भी ब्लॉग या वेबसाइट की Search Engine Ranking को बढाने में मदद करता है और इस तरह का backlink आपके blog या वेबसाइट के लिए काफी फायेदेमंद भी साबित होता है |

DoFollow backlink में कोई भी एट्रिब्यूट नहीं रहता है, इस Dofollow backlinks को अच्छे से समझने के लिए नीचे उदाहरण देखे |

<a href=“yourwebsite.com”>Link Text</a>

Benefits Of Dofollow Backlink :

  • Page rank को Improve करता है |
  • Content की रैंकिंग को सर्च इंजन में boost करने में मदद करता है |
  • Blog या website की domain authority को Improve करता है |

2# NoFollow Backlink

Nofollow backlink juicy links नहीं बिलकुल होते है क्योंकि यह एक website से दुसरे website तक link juice को pass नहीं करता है | NoFollow link आपके blog या website को rank कराने में इसकी कोई भूमिका नहीं होती है और इस प्रकार के links google के सर्च इंजन में index भी नहीं होते है |

जब भी आपके किसी ब्लॉग या वेबसाइट में google के सर्च इंजन का robot विजिट करता है तो nofollow का टैग उस robot को उस लिंक को index करने से रोक देता है जो nofollow backlinks आपके ब्लॉग या वेबसाइट में होते है |

लेकिन इसका मतलब ये बिलकुल नहीं है की nofollow backlinks आपके ब्लॉग के लिए किसी काम के नहीं होते है, NoFollow backlink आपके blog के लिए कुछ हद तक फायेदेमंद जरूर होते हैं | अगर आप अपने ब्लॉग के लिए सारे link DoFollow बनाते है तो google को ऐसा लगता है की आपका profile link natural नहीं है और इसके लिए गूगल आपको penalise भी कर सकता है|

इस Nofollow backlinks को अच्छे से समझने के लिए नीचे उदाहरण देखे |

<a href=“yourwebsite.com” rel=“nofollow”>Link Text</a>

Benefits Of Nofollow Backlink :

  • कुछ हद तक ट्रैफिक मिल सकता है |
  • DA, PA को स्थिर रखने के लिए किसी भी वेबसाइट में dofollow links के साथ साथ nofollow backlinks भी बहुत जरुरी होती है |
  • आप DoFollow 70% : Nofollow 30% के अनुपात में बनाना चाहिए |

इन्हें भी पढ़ें-

Apne Blog Ke Liye Image Optimization Kaise Kare
Top 10 Best Free Responsive Blogger Templates 2021 in Hindi

Apne Blog Ke Liye Backlink Kaise Banaye?

अब तक हमलोगो ने जाना की backlinks kya hota hai? और Backlink कितने प्रकार के होते है लेकिन मैं अब आपको बताऊंगा कि backlink कैसे बनाते है? जितने भी नए blogger होते है उनके मन में backlink कैसे बनाये इसको लेकर सवाल हमेशा रहता है |

आप अपने blog के लिए जितना चाहे backlinks बना सकते है क्योंकि Backlink बनाने के लिए कोई सीमा नहीं है आप जितने चाहे उतने अपने ब्लॉग के लिए backlink create कर सकते है | आप अपने blog के लिए quality backlink जरूर create करें क्योंकि आपके blog पे visitors को बढ़ाने एवं आपके blog को popular करने में मदद करता है |

तो चलिए जानते की अपने blog के लिए backlink कैसे बनाये?

1. Guest Post Backlinks: आज के समय में blogging की छेत्र में guest post की popularity बहुत ही तेजी से बढ़ रही है | Guest post का मतलब की आप किसी दूसरी popular blogs या website के लिए पोस्ट लिखकर उसमे अपनी आर्टिकल का लिंक text anchor में दाल कर generate किये हुए links को guest post के रूप में submit करना इसे ही guest post कहा जाता है |

गेस्ट पोस्ट करके आपको जितने भी सारे बैकलिंक मिलते है उनमें से अधिकतर dofollow backlinks होते है और इस प्रकार का बैकलिंक आपके ब्लॉग या साइट की रैंक को सर्च इंजन में बहुत तेजी से ऊपर ले जाने काफी मदद करता है |

2. Comments Backlinks: कमेंट बैकलिंक्सअपने ही blog के niche से related किसी दुसरे अच्छे blogs पर comment करके बनाये जाते है और यहाँ से जो बैकलिंक्स मिलते है वो nofollow backlink होते है |

जब भी अपने blog के लिए comment करके बैकलिंक्स create कर रहे है तो वहां पर comment के साथ साथ अपने blog का url देना ना भूलें, अगर आप ऐसा नहीं करते है तो वहां पर आपका comment करना व्यर्थ चला जायेगा |

3. Profile backlink: इंटरनेट आपको बहुत सारी ऐसी वेबसाइट मिलेंगी जहाँ से अपको प्रोफाइल बैकलिंक create करने को मिलता है ये बैकलिंक्स dofollow भी हो सकता है और nofollow भी ऐसे बैकलिंक भी थोड़ा बहुत आपके ब्लॉग के SERP को increase करने में मदद करता है |

Conclusion

आशा करते हैं कि आपको हमारी यह backlinks kya hota hai? जरूर आपको पसंद आई होगी एवं इसके साथ ही आपको Quality Backlinks कैसे बनाये? उसके के बारे में भी सारी जानकारी आपको हमारे इस post के माध्यम से मिल गई होगी तो इस post को अपने दोस्तों में share जरूर कीजिए |

आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी हमें comment box में जरूर बताएं एवं इस topic से related आपका कोई सवाल है तो भी हमें comment box में जरूर बताएं मैं पूरी कोशिश करूँगा की मैं आपके सवालों का जवाब जल्द से जल्द दें सकूँ |

आगे भी ऐसी ही महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए बने रहे Techify ideas पर, धन्यवाद!

Follow me on Instagram- @techifyideas

Written by Ravi Ranjan

Hello friends, मेरा नाम Ravi Ranjan हैं और मैं Blogging करने के साथ-साथ Youtuber भी हूँ | इस Blog में मैं Tech news, Blogging, SEO, Internet, Earn money, Job और Facebook जैसे अनेक Topic पर पोस्ट लिखता हूँ | blogger पर मेरा मेन मकसद है कि मैं आपको अच्छे से अच्छे जानकारी दूँ ताकि आप Technology के क्षेत्र में पीछे ना रहें |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

GIPHY App Key not set. Please check settings